Mushkil Shayari

Mushkil Shayari

तुम्हे सुनाए कैसे हाल-ए-दिल सुनाना मुश्किल सा हो गया है, के कश्ती पानी में आ गयी क्या चलाना मुश्किल सा हो गया है।

हमारे होठों पर कपकपी सी ये दास्तां क्या सुना रही है, के आह मंजर सा बन गयी क्या छुपाना मुश्किल सा हो गया है।

हमारे ख्वाबों में आना हर दिन तुम्हारी आदत सी हो गयी है, के दिल मोहब्बत में आ गया क्या,मनाना मुश्किल सा हो गया है।

मुश्किल हुआ है शहर में रहना मेरा, चलना मेराबस कुसूर इतना है कि रहता हूँ मैं तन्हा बड़ा

कितना आसान है जमाने में जनम लेनाबड़ी मुश्किल है एक उम्र तक जीवन जीनाहम तो खामोश हैं तेरी ही खामोशी सेहमने तुमसे ही सीखा है आंसू पीना

हमसे पूछो क्या होता है पलपल बिताना, बहुत मुश्किल होता है दिल को समजाना, यार ज़िंदगी तो बीत जाएगी, बस मुश्किल होता है कुछ लोगो को भूल पाना

तुझको याद करके रोता है अब दीवाना तेरा; जो ना भूल पाएगा कभी भी ठुकराना तेरा; तुम हमें भूल जाओ शायद ये फितरत है तेरी; मुश्किल है हमारे लिए प्यार भुलाना तेरा।

मुश्किल इस दुनियाँ मे कुछ भी नहीं, फिर भी लोग अपने इरादे तोड़ देतें हैं, अगर सचे दिल से हो रिश्ते तो, सितारे भी अपनी जगह उनके लिए छोड देते हैं

Mushkil Shayari Quotes (2022)

Mushkil Shayari Quotes (2022)

Arrow Right