Aaina Shayari (2022)

Aaina Shayari (2022)

न देखना कभी आईना भूल कर देखो, तुम्हारे हुस्न का पैदा जवाब कर देगा.

तेरी आँखों में जब से मैंने अपना अक्स देखा है, मेरे चेहरे को कोई आइना अच्छा नहीं लगता.

हर किसी के पास,अपने अपने मायने हैं। खुद को छोड़ सिर्फ दूसरों के लिये ही आईने हैं.

किरदार अपना पहले बनाने की बात क़र, फिर आइना किसी को दिखने की बात कर.

आईना भी तुम्हे देख आहे भरता होगा, इतना भी खुद को निहारा ना कीजिये.

आईने को भी खूबसूरत बना देगी, तुम्हारे चेहरे की मुस्कान.

मेरे वजूद में ऐ काश तू उतर जाए, मैं देखूं आईना और तू नजर आए.

सिर्फ चेहरा ही नहीं शख्सियत भी पहचानो, जिसमें दिखता हो वही आईना नहीं होता.

Aaina Shayari Hindi, English (2022)

Aaina Shayari Hindi, English (2022)

Arrow