Intezaar Shayari For Friend In Hindi Urdu 2 Lines Images October 22, 2020 by admin

Intezaar Shayari for friend Then Hindi And Urdu For SMS images Download And 2 lines Wich Marathi Shayari for husband Then friends sad love And romantic Shayari phone  Best And Latest New Intezaar Shayari Saath Hona  Shayari, Shayari on intezar For म न इ तज र

intezaar shayari for friend

Intezaar shayari in hindi 2 lines images photo
दिल ये हमरा बेकरार हो रहा है,
लग रहा है हमे प्यार हो गया है,
आप आ जाई ये जलड़ी से,
आपका बेसब्री से इंतेजार हो रह है।
________________________
 
इज़ थाक हमे सत्य मत करो,
जान बुझ कर भुलाया मत कर,
जो हम कर दे इक एस एम तेही,
फ़िर हैम एस एम कांताज़ार करवे माट करो।
________________________
 
मोहब्बत का इम्तिहान आसन नहीं,
प्यार सिरफिरे का ना नाम,
मुदित बीते जाति है कैसी के पूर्णांर में,
ये सिरफ पल-पल पाल का नाम नहीं।
________________________
 
तुमहारी यादों में तुम हो क्या,
प्यार ही प्यार बिकरा में फिजाओ में,
आइसा ना हो क्या दुरिया डार बन जाए,
ab to aapke msg ka intezaar nigahon mein hai।
________________________
 
हर रोज होत है तरुफ़ मेरा तेरी येदोन से,
चालकता है नूर तेरा मेरी आंखें से,
तडप रहौं मुख्य और अब तुम अलम है,
और सुतज़ार न होति अब मेरि साँसों से।
________________________
Intezaar shayari in hindi 2 lines images photo download friends

 

हुस्न वालो हुमे अइसे रह ना करो,
मुहब्बत की शमा पाल-भर में बुझ्या ना करो,
सुतज़ार की तू ग़दिया क़यामत-सी लगती है,
एन आना हो से हमके तुम बुलया ना करो।
________________________
 
मेरी तन्हाई तुम्ही वेज दे राही है,
dil ki dhadkan tumhe waaz de rahi hai,
आ भी जा के बुत सुजार के मन में,
तु शोज़ फ़िज़ा तुम वेज दे राही है।
________________________
 
नाज़रो से जाब नज़र का तिकड़म हो गया,
har mod par kisi ka intezaar hota hai,
दिल रोता है ज़ख्म जल्दबाजी में,
shayad isi ka naam to pyar hota hai।
________________________
 
मार कर भी तपती हु तेरे तारे में,
आग लाग गइ है मात्र-ए-बेकरार है,
मिल्ने का माज़ा है, जो मेरे साथ है,
दार उभारता है कदम रक्खे हाय प्यार में।
________________________
 
यू पलके बिहे के तेरा सुतजार करे है,
ये वो गुन्हा है जो हम आपके हैं कौन,
जलकर हसरत की राह पे चिराग,
हम सब और शाम तेरा सुपात्र कटे है।
________________________
 
ज़ख्म इतना जिहरा है इज़हार क्या करे,
हम ख़ुदा निशाण गंगे कमर क्या करे,
सू गय हम मगर खोली रा अँखें,
iss se zyada hum unka intezaar kya kare।
________________________

 

All Types Of Hindi Shayari

Funny shayari hindi

Diwali shayari hindi font shayari

Izhaar shayari in hindi

Armaan Shayari in Hindi

Leave a Reply